शुक्रवार, 11 जून 2010

कार्टून:- लो जी अब हो गए अपराध ख़त्म...


28 टिप्‍पणियां:

  1. क्या बात है ..अपराध क्यों जब सब साथ साथ हैं..मजेदार कार्टून..बधाई काजल जी

    जवाब देंहटाएं
  2. बहुत अच्छा तरीका है, पेटेन्ट कराना चाहिये. इसीलिये पुलिसवाले हत्या तक की रिपोर्ट दर्ज नहीं करते और कभी करते भी हैं तो अपराध संख्या शून्य पर करते हैं...

    जवाब देंहटाएं
  3. बेहद मारक ,धारदार व्यंग !

    जवाब देंहटाएं
  4. एकदम जोरदार!
    बस रामराज्य आया ही समझिए:)

    जवाब देंहटाएं
  5. Chaliye,aapas me ek duje ko badhayi de denge! Jo Ramayan ,Mahabharat kaal me na hua,wo ab ho gaya!

    जवाब देंहटाएं
  6. इस उपाय से दोनों ही खुश दिख रहे हैं!

    जवाब देंहटाएं
  7. और जो पीछे खड़ा है वो क्या है ... अरे वह तुम्हें भी नहीं बख्शने वाला

    जवाब देंहटाएं
  8. Neta aur police, ye dono apraadh nahi karte, khaas karke jab saath saath hon tab.


    badhiya hai !

    जवाब देंहटाएं
  9. जोरदार -वैसे पट्टी खुल भी गयी होती तो आगे क्या दीखता -महानुभाव तो पीछे खड़े हैं न !

    जवाब देंहटाएं
  10. वैसे भी गांधीजी पहले ही कह गये हैं कि, ’बुरा मत देखो, बुरा मत सुनू, बुरा मत बोलो।’ कहीं कुछ गड़बड़ नहीं है जी, लोग तो वैसे ही बतंगड़ बनाये रखते हैं। और अब तो सचमुच कहीं अपराध या अपराधी दिखेंगे ही नहीं।

    जवाब देंहटाएं
  11. नेता के बगल से छूरी कहाँ गई? :)

    जवाब देंहटाएं
  12. ांरे वाह मजेदार और सही । बधाई

    जवाब देंहटाएं
  13. मुझे भी नहीं दिख रहे भाई जी !

    जवाब देंहटाएं
  14. यह धृतराष्ट्र - क़ानून (सन्दर्भ भोपाल गैस त्रासदी) की पत्नी गांधारी है.

    जवाब देंहटाएं
  15. दोनों बड़े धार्मिक प्रवृति के लोग है अपराध का तो सवाल ही नहीं उठता

    जवाब देंहटाएं

LinkWithin

Blog Widget by LinkWithin