रविवार, 25 जुलाई 2010

कार्टून:- ले, सिर मुंड़ा ले या ओले पड़ा ले...


19 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत बढ़िया जो अपनों से गद्दारी करेगा उसे अमेरिका ऐसा ही कहेगा .. अच्छा कार्टून ...

    जवाब देंहटाएं
  2. भिक्षार्थियों में विनम्रता भी हो।

    जवाब देंहटाएं
  3. इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.

    जवाब देंहटाएं
  4. हमारीवाणी का लोगो अपने ब्लाग पर लगाकर अपनी पोस्ट हमारीवाणी पर तुरंत प्रदर्शित करें

    हमारीवाणी एक निश्चित समय के अंतराल पर ब्लाग की फीड के द्वारा पुरानी पोस्ट का नवीनीकरण तथा नई पोस्ट प्रदर्शित करता रहता है. परन्तु इस प्रक्रिया में कुछ समय लग सकता है. हमारीवाणी में आपका ब्लाग शामिल है तो आप स्वयं हमारीवाणी पर अपनी ब्लागपोस्ट तुरन्त प्रदर्शित कर सकते हैं.

    इसके लिये आपको नीचे दिए गए लिंक पर जा कर दिया गया कोड अपने ब्लॉग पर लगाना होगा. इसके उपरांत आपके ब्लॉग पर हमारीवाणी का लोगो दिखाई देने लगेगा, जैसे ही आप लोगो पर चटका (click) लगाएंगे, वैसे ही आपके ब्लॉग की फीड हमारीवाणी पर अपडेट हो जाएगी.


    कोड के लिए यंहा क्लिक करे

    जवाब देंहटाएं
  5. ये इन भिखारी लोगों की परम्परा है जी....

    जवाब देंहटाएं
  6. सिर बचा रहेगा तो मांग के खाता पीता रहेगा. सिर ही गया तो जीवन गया. पाकिस्तान के लिये तो अब अस्तित्व का खतरा है काजल भाई

    जवाब देंहटाएं
  7. मतलब अमेरिका के अलावा ऊपर वाले से भी छल :)

    जवाब देंहटाएं
  8. आंतरिक और बाह्य-दोनों संसाधनों का दुरुपयोग करने वालों को आप कुछ भी कहें,कानों पर जूं नहीं रेंगती।

    जवाब देंहटाएं
  9. बढ़िया है..हाथ खाली हो गए फैलाने के लिए..'और 'बटोरने के लिए .

    जवाब देंहटाएं
  10. अब अल्लाह मियां की मेहरबाणी से पाकिस्तान मै भिखारियो की जन संख्या बढ गई इस लिये कटोरेसे काम नही चलेगा.... बच्चू बोरा साथ ले कर आया है....

    जवाब देंहटाएं

LinkWithin

Blog Widget by LinkWithin