Friday, July 2, 2010

कार्टून:- हिन्दी ब्लागरों की कमाई का रास्ता खुल गया


27 comments:

  1. प्रलयंकारी /मारक /हाहाकारी /गज़ब /गज़ब/गज़ब

    ReplyDelete
  2. "हाअ...हा...हा.."

    ReplyDelete
  3. हा हा!! खर्चा बचा याने कमाई!!

    ReplyDelete
  4. बहुत खूब ... यह तरीका भी अच्छा है

    ReplyDelete
  5. बेहतर। बहुत ही शानदार.

    ReplyDelete
  6. हाँ, बचत भी कमाई ही है।

    ReplyDelete
  7. होटल के खर्चे का जुगाड तो बता दिया...अब किराए भाड़े और रास्ते के चना-चबैना पर भी कुछ हो जाए

    ReplyDelete
  8. ये आइडिया तो हमें भी पसंद है ।
    आजमाएंगे भी ।

    ReplyDelete
  9. मैं कल सुबह सुबह ही ट्रक से लिफ़्ट लेकर पहुँच रहा हूँ आपके शहर. रेलवे स्टेशन पर लेने आ जाइयो... :)

    कार्टूनीगिरी हमेशा की तरह लाजवाब.

    ReplyDelete
  10. क्या आईडिया है सरजी

    ReplyDelete
  11. अगली ब्लॉगर मीट कब और कहाँ ? ज़रा जल्दी से बताइये ना ?

    ReplyDelete
  12. ये सिर पर बिस्तरे का बोझ भी काहे उठाये घूम रहा है...जिनके यहाँ जाएगा, वो क्या चटाई पर सुलाएंगें :)

    ReplyDelete
  13. भावपूर्ण कार्टून।

    ReplyDelete
  14. हमें भी बताना भाई इस माह जबलपुर कैट और अगले माह सुप्रीम कोर्ट दिल्‍ली में काम है कोई ब्‍लॉगर मीट हो रहा होगा तो हमारी भी कमाई हो जावेगी, क्‍लाईन्‍ट से स्‍टार होटल में स्‍टे का पईसा लेगें.

    :)

    ReplyDelete
  15. अरे जबरदस्त रहा ये तो ...हंस हंस के पागल हो रहा हूँ में :)

    ReplyDelete
  16. चलिये अब आप ने अच्छा जुगाड बताया, लेकिन हम तो कार वाले ब्लांगर के ठहरेगे, बाकी घुमने का खर्च भी बचे ना.... अजी आप का यह कार्टून देख कर तो पेट मै बल पड गये हंसते हंसते, बहुत सुंदर

    ReplyDelete
  17. खोपड़ी घुमाऊ आइडिया दिया है सर जी...प्रलय दूर नहीं....हा हा हा हा

    ReplyDelete
  18. बढ़िया सर जी.. पर ये अर्ज है कि ब्लॉग कार्टून से बाहर निकालिए.. और भी ग़म हैं दुनिया में..

    ReplyDelete
  19. हा हा इटज़ टू मच सर जी।

    ReplyDelete
  20. ब्लॉगर मीट से कुछ ज़्यादा ही खफा लगते हैं आप!

    निर्मला जी ने बिलकुल ठीक लिखा 'इटज़ टू मच'

    दीपक मशाल की तर्ज़ पर अर्ज़ है कि 'ब्लॉग सम्बंधित कार्टून से बाहर निकालिए.. और भी ग़म हैं दुनिया में..'

    ReplyDelete
  21. एक कमेंट कट पेस्ट करता हूँ....

    प्रलयंकारी /मारक /हाहाकारी /गज़ब /गज़ब/गज़ब

    ReplyDelete

LinkWithin

Blog Widget by LinkWithin