शनिवार, 19 नवंबर 2011

कार्टून :- अहा ठंडे-ठंडे फ़िक्सिंग के फंडे


13 टिप्‍पणियां:

  1. साधु साधु ! वे वर्षों तक मौन व्रत रख पाये :)

    जवाब देंहटाएं
  2. पता नहीं मुँह खोलें तो क्या गंध निकले।

    जवाब देंहटाएं
  3. बिल्कुल फिक्स कार्टून! :)

    जवाब देंहटाएं
  4. मर्ज़ी है । वैसे आरोप तो १५ साल बाद भी लगाये जाने की सुविधा है । हा हा हा !

    जवाब देंहटाएं
  5. :) बाद में बोलने से क्या फायदा ..पहले ही कह दो ..

    जवाब देंहटाएं
  6. बने रहने के लिए ये भी आईडिया बुरा नहीं :-)

    जवाब देंहटाएं
  7. मज़ेदार !

    पंद्रह की हो गयी है, बला की हसीन है,
    Fixing पे 'काम्बली' को अभी तक यकीन है.

    Message मिल रहा है हवाओं से 'Ball' को,
    'पैसों' से खेलती अब 'रनों की मशीन' है.

    'प्लेयर' को देर से सही आया है होश तो,
    'बोर्ड' अपना, कुंभ्क्रनीय निंद्रा में लीन है.
    http://aatm-manthan.com

    जवाब देंहटाएं
  8. पंद्रह की हो गयी है, बला की हसीन है,
    Fixing पे 'काम्बली' को अभी तक यकीन है.

    Message मिल रहा है हवाओं से 'Ball' को,
    'पैसों' से खेलती अब 'रनों की मशीन' है.

    'प्लेयर' को देर से सही आया है होश तो,
    'बोर्ड' अपना, कुंभ्क्रनीय निंद्रा में लीन है.
    http://aatm-manthan.com

    जवाब देंहटाएं

LinkWithin

Blog Widget by LinkWithin