बुधवार, 23 दिसंबर 2009

कार्टून:- आओ, आज मुझसे मिलो


17 टिप्‍पणियां:

  1. बात तो सही की है! आम आदमी की भी ab यही हालत हो गयी है.

    जवाब देंहटाएं
  2. आज तो आपकी तुलिका गजब ढा रही है- आभार

    जवाब देंहटाएं
  3. बस अब उनके द्वारा जो मेरा ये कच्छा बचा है, वही उतार कर ले जाना बाकी रह गया है...

    जय हिंद...

    जवाब देंहटाएं
  4. बहुत सटीक और पीडा बडी मार्मिक है.

    रामराम.

    जवाब देंहटाएं
  5. यहाँ छत्तीसगढ़ में आज वोट पड़ रहे हैं उसके बाद काफी दिनों तक कोई इसकी चिंता नहीं करेगा !

    जवाब देंहटाएं
  6. इस कार्टून की चर्चा तो यहाँ भी है!
    http://charchamanch.blogspot.com/2009/12/blog-post_23.html

    जवाब देंहटाएं
  7. भूख से बोरा गया है बेचारा, आम वोटर खूद को भारत भाग्य विधाता समझने लगा है.

    जवाब देंहटाएं
  8. सही बात है,संसद में सबको चिन्ता ही रहती है.

    जवाब देंहटाएं
  9. चिंता तो रहती है, पर थोड़ी देर तक।
    अच्छा व्यंग।

    जवाब देंहटाएं
  10. बिलकुल सत्य वचन जी, इस गरीब आदमी की दुहाई सभी देते है, (लेकिन इसे कुछ नही देते)चाहे वो नेता हो अभिनेता हो या फ़िर विश्वसुंदरी, हाली बुड हो या बाली बुड सभी इसे के नाम से बन जाते है आमीर

    जवाब देंहटाएं
  11. waah bhai..badhiya vyang darshan sach ko sach aur maje ka maja..bahut bahut dhanywaad kaajal ji

    जवाब देंहटाएं
  12. कितनी सही बात कह दी आपने.

    जवाब देंहटाएं

LinkWithin

Blog Widget by LinkWithin