सोमवार, 14 दिसंबर 2009

कार्टून:- मत जइयो मेरी जान तू बस में मत जइयो


13 टिप्‍पणियां:

  1. यह डर 'बेचारे का सही hai.
    -Delhi meinपहले ब्लू लाइन बसों का कहर था अब इन बसों का.
    -सरकार जागी तो है.
    देखीए क्या होता है!

    जवाब देंहटाएं
  2. हा हा!! तेहरवीं का भोज तो खिलाओ पहले फिर पिंड दान भी करवा देंगे. :)

    जवाब देंहटाएं
  3. बहुत बढ़िया !
    पर एक बात है ...उसे बस पर भरोसा नहीं ये तो ठीक है परन्तु परिजन पिंडदान करा देंगे ये भरोसा भी उठ गया लगता है !

    जवाब देंहटाएं
  4. ठीक ही कह रहा है बेचारा, बचाव में ही सुरक्षा है।

    जवाब देंहटाएं
  5. ह ह ह सही है ये बाबे खुद ही पिन्ड खा जाते हैं दान करने को रहता ही क्या है?

    जवाब देंहटाएं

LinkWithin

Blog Widget by LinkWithin