शुक्रवार, 25 मई 2012

कार्टून :- सरकार न हुई ग़रीब की जोरू हो गई


11 टिप्‍पणियां:

  1. ...अभी-अभी तो पिटरोल के दाम बढ़ा के अमीर हुई है !

    जवाब देंहटाएं
  2. इन्होंने झापड़ मारने का संकेत (इशारा) किया हुआ है तो क्या वे लोग बुरा भी ना मानें :)

    जवाब देंहटाएं
  3. बहुत बढ़िया प्रस्तुति!
    आपके कार्टून की चर्चा कल शनिवार के चर्चा मंच पर लगाई गई है!
    चर्चा मंच सजा दिया, देख लीजिए आप।
    टिप्पणियों से किसी को, देना मत सन्ताप।।
    मित्रभाव से सभी को, देना सही सुझाव।
    शिष्ट आचरण से सदा, अंकित करना भाव।।

    जवाब देंहटाएं
  4. काजल भाई प्रणब दा तो अब तक तीन मर्तबा प्रधान मंत्री बन गए होते .उनका दुर्भाग्य वे काबिल भी हैं सहृदय भी अविवादित भी कोंग्रेस को ऐसे लोग माफिक नहीं आते .एक मर्तबा उनका हक़ राजीव छीन ले गए उनसे पहले उनकी अम्मा ,फिर मनमोहना और अब राहुल बाबा कतार में हैं ऐसे मंद बुद्धि ही आईदा गद्दी नशीं होंगें प्रणव जैसे मेधावान नहीं .
    कोंग्रेस अब उस मरे हुए चूजे की तरह हो गई है जैसे आज के दौर के कई पति हैं जिनकी बीवियां उन्हें बगल बच्चा बनाए घूमतीं हैं .एक विषकन्या नै दिल्ली के आसन को कब्जाए है अब देखो कौनसा मन मोहन आता है .२०१४ में आता भी या नहीं .रूपये की तरह छित रही है कोंग्रेस .

    जवाब देंहटाएं
  5. प्रणव तो तारणहार हैं :))

    जवाब देंहटाएं

LinkWithin

Blog Widget by LinkWithin