मंगलवार, 29 मार्च 2011

कार्टून:- संगीत की दुनिया में लिफ़ाफ़ों की महिमा

23 टिप्‍पणियां:

  1. जुगाड़ क्या नहीं क्या करा सकता ....

    जवाब देंहटाएं
  2. :-) जुगाड़ ही तो हमारा हथियार है!

    जवाब देंहटाएं
  3. आज योग्यता को भी जुगाड़ की जरूरत परती है यही तो दुर्भाग्य है...

    जवाब देंहटाएं
  4. और एक जमाने में जिसे मजबूरन सुनना ही पड़ता था :)

    जवाब देंहटाएं
  5. सुगम संगीत की सटीक परिभाषा। आनन्‍ददायक।

    जवाब देंहटाएं
  6. अभी जुगाड़ में व्यस्त हैं, टिप्पणी बाद में करेंगे...

    जवाब देंहटाएं
  7. कोई संगीतकार गायक आप के पीछे न पड़ जाये ये क्या कह दिया |

    जवाब देंहटाएं
  8. जुगाड का बोलबाला तो दुनिया के हर कोने में है !

    जवाब देंहटाएं
  9. सच कह रहे हो...हा हा हा हा...

    नीरज

    जवाब देंहटाएं
  10. फिर शास्त्रीय संगीत की परिभाषा भी दी जाए.. :)

    जवाब देंहटाएं
  11. जुगाड तो भारत की विश्व को एक बहुमूल्य देन है..

    जवाब देंहटाएं
  12. सुगम संगीत --जुगाड़ । हा हा हा ! बहुत खूब ।

    जवाब देंहटाएं
  13. जुगाड़-चित्रण बहुत भाया...

    जवाब देंहटाएं
  14. -शीर्षक पर बात करूँ तो..'लिफाफों 'का चलन हाल ही एक नामी संगीतकार के संगीत -आयोजन में देखा था..

    जवाब देंहटाएं

LinkWithin

Blog Widget by LinkWithin