शुक्रवार, 28 अगस्त 2009

कार्टून:- ये क्या जगह है दोस्तो...

22 टिप्‍पणियां:

  1. कहीं भारत और इन्डिया का फर्क तो नहीं दिखा रहे हैं?

    जवाब देंहटाएं
  2. इंसानों की भाषा सीख गया!!

    जवाब देंहटाएं
  3. काजल भाई आप नहीं भी बुलाते तब भी आता हूँ !
    मेरा भी यही आशय है की इस मुद्दे पर सकारात्मक चिंतन हो !

    जवाब देंहटाएं
  4. आग यहाँ तक फ़ैल चुकी है.................
    बाप रे बाप !

    जवाब देंहटाएं
  5. हूं मामला इतना बढ गया है?सोचना पडेगा।

    जवाब देंहटाएं
  6. जाती पूछ रहा है ति भारत ही होगा...

    जवाब देंहटाएं
  7. निर्जीवो में भी सजीवों के अवगुण समाने लगे!!!

    जवाब देंहटाएं
  8. सवर्ण और विवर्ण टायर संवाद!

    जवाब देंहटाएं
  9. काजल जी,
    आपके कार्टून्स की मैं बहुत बड़ी पंखा हूँ...लेकिन भारत से दूर होने की वजह से कुछ बातें समझ नहीं पाती हूँ..
    आप जिस भी न्यूज़ आइटम या घटना पर कार्टून बनाते हैं अगर उसका भी लिंक दे दें तो मैं और आप्रेसिअते कर पाउंगी...
    धन्यवाद...

    जवाब देंहटाएं
  10. उत्तम ... पर कहीं यहाँ भी राजनीती नहीं होने लगे ...सड़क पर आरक्षण न माँगा जाने लगे

    जवाब देंहटाएं
  11. इसके निहितार्थ तो गम्भीर हैं । बहुत बढ़िया ।

    जवाब देंहटाएं
  12. सुन्दर. दो प्रकार के तोंद भी बनते हैं

    जवाब देंहटाएं

LinkWithin

Blog Widget by LinkWithin