बुधवार, 27 मई 2009

कार्टून :- डाकू, डाका और देश का खाका...

9 टिप्‍पणियां:

  1. बेहतरीन प्रस्तुति। वाह।।

    इस तरह पानी हुआ कम दुनिया में, इन्सान में।
    दोपहर के बाद सूरज जिस तरह ढ़लता रहा।।

    सादर
    श्यामल सुमन
    09955373288
    www.manoramsuman.blogspot.com
    shyamalsuman@gmail.com

    जवाब देंहटाएं
  2. आज तो ये व्यंग की बात है पर कल ये सच मे रिपोर्ट लिखी जायेगी और वो दिन बहुत दूर नही है. एक कडवी सच्चाई है ये.

    आपकी पैनी नजर ने बहुत सटीक विषय चुना. शुभकामनाएं.

    रामराम.

    जवाब देंहटाएं
  3. पेल्ले ये बता घूस में कित्ती गिलास पाणी देगा? :)

    जवाब देंहटाएं
  4. लगता है बहुत जल्द ऐसा वक़्त भी आने वाला है...समझ नहीं आ रहा हसूँ या रोऊँ.....बढ़िया कार्टून

    साभार
    हमसफ़र यादों का.......

    जवाब देंहटाएं
  5. ओह ! ये दिन दूर नहीं लगता ! सच्चाई है !

    जवाब देंहटाएं
  6. बहुमूल्य आईटम ले गये...

    जवाब देंहटाएं

LinkWithin

Blog Widget by LinkWithin