गुरुवार, 3 अक्तूबर 2013

कार्टून :- बालहठ


10 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत सुन्दर प्रस्तुति...!
    आपको सूचित करते हुए हर्ष हो रहा है कि आपकी इस प्रविष्टि् की चर्चा आज बृहस्पतिवार (03-10-2013) पावन माटी से प्यार ( चर्चा - 1387 ) में "मयंक का कोना" पर भी है!
    महात्मा गांधी और पं. लाल बहादुर शास्त्री को श्रद्धापूर्वक नमन।
    हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
    सादर...!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

    जवाब देंहटाएं
  2. प्रणव नाद से मुखर जी, रोके अनुचित चाह |
    वाह वाह युवराज की, देता कुटिल सलाह |

    देता कुटिल सलाह, मानती किचन कैबिनट |
    हो जाते सब चित्त, करा दे बबलू नटखट |

    झेल रही सरकार, रोज ही विकट हादसे |
    रविकर करता ध्यान, हमेशा प्रणव नाद से ||

    जवाब देंहटाएं
  3. बच्चों का मान रखते रहना चाहिये।

    जवाब देंहटाएं
  4. आप तो नाम के ही सरदार हो असरदार ये पप्पू है।

    जवाब देंहटाएं
  5. तुम तो हो सरदार नाम के असरदार ये पप्पू जी।

    जवाब देंहटाएं

LinkWithin

Blog Widget by LinkWithin