Monday, January 9, 2012

कार्टून:-बाबा के भी क्या दिन आ गए


13 comments:

  1. ला-जवाब" जबर्दस्त!!

    ReplyDelete
  2. ढंके जाने के लिए बाबा को सरकारी अनुदान प्राप्त होना होगा :)

    ReplyDelete
  3. ढकेगा तो भी कुछ दबा लेगा !

    ReplyDelete
  4. मूर्तियां ढकने में भी होने वाला है घोटाला ..

    ReplyDelete
  5. आपकी पोस्ट वाले बाबा जी के चित्र पे एक कमेन्ट और बनता है ...

    कुछ उसने खुद को ढ़का , कुछ उसे कुदरत ने , अब जो बचा है , उसपे चुनाव आयोग की नज़र है :)

    ReplyDelete
  6. Ha ha ha! Kya wyang kasa hai!

    ReplyDelete
  7. बहुत सटीक!
    इस कार्टून की चर्चा कल मंगलवार के चर्चा मंच पर भी होगी!
    सूचनार्थ!

    ReplyDelete
  8. चुनाव आने पर अक्सर ऐसे बाबाओं को पूरा ही दहकवा दिया जाता है ... :)

    ReplyDelete

LinkWithin

Blog Widget by LinkWithin