रविवार, 13 फ़रवरी 2011

कार्टून:- बिना स्टॉप्पर हटाए, धक्का लगाए जाने वाले लोग


29 टिप्‍पणियां:

  1. इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.

    जवाब देंहटाएं
  2. बहुत सुन्दर काजल जी... करारा

    जवाब देंहटाएं
  3. ये मनमोहन कुली बनने के लायक भी नहीं है........

    जवाब देंहटाएं
  4. तुम भी ठेलो, हम भी ठिलें, ठिलती रहे जिन्दगी!

    जवाब देंहटाएं
  5. हा-हा... सिर्फ धक्का , मैं तो कहूँगा कि पिछवाड़े पर.. ठिलने वाले के भी और ठेलने वाले के भी !

    जवाब देंहटाएं
  6. मुझे कोई और ठेले, तुझे मैं ठेलूं - चलती रहे ये ठेलाठेली..

    जवाब देंहटाएं
  7. मैडम जी ने ठेलने को कहा था सो ठेल रहे है चाहे आगे बढ़े या ना बढ़े |

    जवाब देंहटाएं
  8. बढ़िया और यथार्थ परक चोट की है शुभकामनायें काजल भाई !

    आपके साईट पर आने पर वाइरस वार्निंग मिल रही है कृपया इसे भगाइए ..

    जवाब देंहटाएं
  9. तुम हमारे लिये हम तुम्हारे लिये.

    रामराम.

    जवाब देंहटाएं
  10. ही ही ही ..लगे रहो मन्नू भाई.

    जवाब देंहटाएं
  11. ज़बरदस्त है बोस.......बेहद...उम्दा।

    जवाब देंहटाएं
  12. आंख वाला कौन है?

    जवाब देंहटाएं

LinkWithin

Blog Widget by LinkWithin