Thursday, April 16, 2009

कार्टून - मेरे ऑफिस आना.

12 comments:

  1. शानदार !
    ...आगे चल कर इनकी कम्पनियां /शेयर होल्डर और सत्यम छाप स्केम्प भी हुआ करेंगे !

    ReplyDelete
  2. वाह जनाब...
    बहुत सुन्दर..

    ~जयंत चौधरी

    ReplyDelete
  3. अभी भी कई करोडपति भिखारी हैं, हम भी एक को जानते हैं.

    रामराम.

    ReplyDelete
  4. अरे भई ऑनलाइन पेय-पाल में कमा करवा दो.. :)

    ReplyDelete
  5. सही है ... हर प्रोफेशन में कुछ नियम तो रखने ही पडते हैं।

    ReplyDelete
  6. बिना जोखिम का लाभकारी धंधा है ये
    सत्‍यम, विप्रो, इंफोसिस, रिलायंस
    इस धंधे का क्‍या मुकाबला करेंगी
    http://www.moltol.in/
    इसे यहां तलाश सकते हैं

    ReplyDelete
  7. हा हा ... शानदार...


    ....कुछ खबर है इस कंपनी का पब्लिक इश्यु कब आने वाला है :)

    ReplyDelete
  8. भाई काजल

    बहुत सफाई और सुन्दरता के साथ तो आप कार्टून बनाते ही हैं साथ-साथ आप सामयिक समस्याओं को भी बड़ी ख़ूबी से दर्शाते हैं वाह! आपकी ब्रश और दिमाग इसी तरह रंग भरता रहे हमेशा

    ReplyDelete
  9. bahut bariya
    jaha tak mai janti hu aap lot pot k cartoon aap hi likhate the
    humne bachpan me par kar bahut maje liye
    mujhse to abhi bhi cartoon dekhana or parna achchha lagta hai

    ReplyDelete

LinkWithin

Blog Widget by LinkWithin