रविवार, 10 फ़रवरी 2013

कार्टून :- फ़ेसबुक के लल्‍लनटॉप


18 टिप्‍पणियां:

  1. :)

    जिस तरह फेसबुक स्टेटस के चक्कर में गिरफ्तारियां हो रही है उससे लगता है ये कारीगरी अब फेसबुक पर भी थोड़े दिनों तक ही चलने वाली है !!

    जवाब देंहटाएं
  2. बताइये, एक अक्षर से ही ले डूबेगा जहाज को..

    जवाब देंहटाएं
  3. हा हा हा !


    बुद्धिमान बनना है तो चुइंगम चबाओ प्यारे - ब्लॉग बुलेटिनआज की ब्लॉग बुलेटिन मे आपकी पोस्ट को भी शामिल किया गया है ... सादर आभार !

    जवाब देंहटाएं
  4. बहुत सुन्दर प्रस्तुति!
    --
    आपकी इस प्रविष्टी की चर्चा कल सोमवार (11-02-2013) के चर्चा मंच-११५२ (बदहाल लोकतन्त्रः जिम्मेदार कौन) पर भी होगी!
    सूचनार्थ.. सादर!

    जवाब देंहटाएं
  5. क्या कहा जाये? यह हाल फ़ेसबुक के अलावा और जगह भी है. हमारे आफ़िस की लिफ़्ट के बाहर शायद बार बार बटन दबाये जाने की वजह से लिखा है : "कृपया बारबार बटन ना दबायें" किसी ने "ट" के नीचे डंडी डाल कर उसको "द" कर दिया है.

    शायद विकृत मानसिकता हावी है.

    रामराम.

    जवाब देंहटाएं
    उत्तर
    1. कई लिफ़्टों के भीतर तो वाक़ई ग़ज़ब की कलम चली रहती है :(

      हटाएं
  6. बच्चा वाकयी रचनात्मक है।

    जवाब देंहटाएं

LinkWithin

Blog Widget by LinkWithin