बुधवार, 21 अगस्त 2013

कार्टून :- और शेर डूबता चला गया...


8 टिप्‍पणियां:

  1. शेर डूबता दे बता, सिंह हमारा बूढ़ ।

    उत्तर ढूँढे ना मिले, अर्थशास्त्र का गूढ़ ।

    अर्थशास्त्र का गूढ़, बैठ के अब झक मारें ।

    सत्ता सर के तीर, तीर से पब्लिक तारें ।

    तारे गया दिखाय, खाय के सिंह ऊबता ।

    आज ख़ुदकुशी भाय, तभी तो शेर डूबता ॥

    जवाब देंहटाएं
  2. आपकी उत्कृष्ट प्रस्तुति का लिंक लिंक-लिक्खाड़ पर है ।। त्वरित टिप्पणियों का ब्लॉग ॥

    जवाब देंहटाएं
  3. सेंचुरी बनाकर ही रहेगा, ऐसी आशंका लगती है.

    जवाब देंहटाएं

LinkWithin

Blog Widget by LinkWithin