रविवार, 17 मार्च 2013

कार्टून :- फ़ेसबुक के साइड इफ़ेक्ट


18 टिप्‍पणियां:

  1. हा हा हा हा ...........इससे बढ़िया तरीका और क्या होगा !!
    बिना पढ़े चट से चटका लगा लाइक कर दो, जैसे हम आपका ब्लॉग खुलने से पहले ही फेसबुक पर आपके कार्टून की छोटी सी फोटो जिसमें कुछ दिख ही नहीं रहा था, लाइक कर आये :)

    जवाब देंहटाएं
  2. फेसबुक, SMS, चैटिंग का असर बुरा ही पड़ रहा है। आज कल बच्चे गलत स्पेलिंग सीख रहे हैं और बहस कर जाते हैं की यही सही स्पेलिंग है, जैसे Are you there ? को लोग शोर्ट में चाट या SMS पर ar u dr ? लिख देते हैं, और छोटी क्लास के बच्चे सोचते हैं ये सही है| एक बहुत बड़ी समस्या होने वाली है, ख़ास करके के अंग्रेजी भाषा के साथ, इसके व्याकरण और वर्तनी का भाजी-पाला होना ही है, देख लीजियेगा।
    बेशक इसे देख कर हम हँस दें लेकिन बात बहुत गंभीर है।

    जवाब देंहटाएं
  3. जबरदस्त... हमारे टाइम में ऐसे एक्साम होते तो आज हम भी राहुल बाबा को टक्कर दे सकते थे अकाल के मामले में..

    जवाब देंहटाएं
  4. हमने भी Like का ट्रायल शुरू किया है पर लगता है फ़ेल ही होंगे साहबजादे.:)

    रामराम

    जवाब देंहटाएं
  5. बहुत अच्छा नया स्टाइल खोजा....

    जवाब देंहटाएं
  6. .शुक्रिया आपकी नियमित टिप्पणियों का .
    चित्र व्यंग्य सिर चढ़के बोलता है .

    जवाब देंहटाएं
  7. चुटीली कथा है आपके फेस्बकिया चित्र व्यंग्य की तरह पैनी .शुक्रिया साइंस ब्लॉग पे आपकी टिप्पणियों का .


    ram ram bhai
    मुखपृष्ठ

    रविवार, 17 मार्च 2013
    आरोग्य प्रहरी

    http://veerubhai1947.blogspot.in/

    जवाब देंहटाएं
  8. वाह!
    आपकी यह प्रविष्टि आज दिनांक 18-03-2013 को सोमवारीय चर्चा : चर्चामंच-1187 पर लिंक की जा रही है। सादर सूचनार्थ

    जवाब देंहटाएं
  9. कॉपी जाँचने वाले मास्साब की तो निकल पड़ी ........

    जवाब देंहटाएं
  10. सुन्दर प्रश्न का कमेन्ट भी कर देते।

    जवाब देंहटाएं

LinkWithin

Blog Widget by LinkWithin