मंगलवार, 5 मार्च 2013

कार्टून :- धंधा ये भी ठीक है


13 टिप्‍पणियां:

  1. नायाब आइडिया. इसे तो अमात्य होना चाहिये...

    जवाब देंहटाएं
  2. आइडियों की कमी थोड़े है इंडिया में :) वैसे एक आइडिया मैं भी आपको देना चाहता हूँ काजल साहब कि कृपया आप अपना ब्लॉग और उससे लिंक्ड विज्ञापन चेक करवाइए, मेरा कंप्यूटर वाइरस की चेतावनी देता है !

    जवाब देंहटाएं
  3. वास्तव में ऐसा ही है अब तो दाम बढ़ने का कोई ठिकाना ही नहीं रहा

    जवाब देंहटाएं
  4. यही हकीकत है. जब अन्तर्राष्ट्रीय बाजार में रेट इतने नहीं बढ़ रहे तो हमारे यहाँ कहाँ से बढ़ रहे हैं.

    जवाब देंहटाएं
  5. आपकी इस उत्कृष्ट पोस्ट की चर्चा बुधवार (06-02-13) के चर्चा मंच पर भी है | जरूर पधारें |
    सूचनार्थ |

    जवाब देंहटाएं
  6. हाँ बढ़ाने का नया कार्य आ गया है।

    जवाब देंहटाएं
  7. यही है जन मनोविज्ञान काजल भाई जनता की नवज और बेबसी पकड़ो दोहन करो .बहुत सशक्त चित्र व्यंग्य .

    जवाब देंहटाएं

LinkWithin

Blog Widget by LinkWithin