रविवार, 2 सितंबर 2012

कार्टून :- अगला हिन्दी ब्लॉगर सम्मेलन ऐसा होगा



40 टिप्‍पणियां:

  1. ha,,,ha,,,ha,,,ha
    bahut badhiya
    nice cartoon
    aapse kuchh bhi bach nahi paata :)

    जवाब देंहटाएं
  2. हा हा ये खूब रही सामयिक :-)

    जवाब देंहटाएं
  3. Kis par gaaz girayi bhai..
    Bana ke rekha-chitr???...
    Hansi-hansi main batlaya hai...
    Satya raha jo mitr!!!...:)...

    जवाब देंहटाएं
  4. बहुत सुन्दर प्रस्तुति!
    आपकी इस प्रविष्टी की चर्चा आज के चर्चा मंच पर लगाई गई है!

    जवाब देंहटाएं
  5. सम्मान पाने के लिए लालायित ब्लॉगरस के लिए बहुत बढ़िया मार्गदर्शन :)

    जवाब देंहटाएं
  6. हम तो खटोला भी लेकर जाएंगे...फिर गाएंगे...खटोला यहीं बिछेगा...​
    ​​
    ​जय हिंद...

    जवाब देंहटाएं
  7. आईडिया अच्छा है. सभी को अपने लिये इंतज़ाम करना पड़ेगा तभी खलिश मिटेगी.

    जवाब देंहटाएं
  8. काजल बनो भैया आंखन का किरकिरी काहे बनत हो काजल कुमार ब्लोगिंग की ......बढ़िया सशक्त ...अपना काम खुद करो समारोह में जा रहे हो तो सीट साथ लेके चलो .....
    कृपया यहाँ भी पधारें -http://veerubhai1947.blogspot.com/
    सादा भोजन ऊंचा लक्ष्य

    स्टोक एक्सचेंज का सट्टा भूल ,ग्लाईकेमिक इंडेक्स की सुध ले ,सेहत सुधार .

    यही करते हो शेयर बाज़ार में आके कम दाम पे शेयर खरीदते हो ,दाम चढने पे उन्हें पुन : बेच देते हो .रुझान पढ़ते हो इस सट्टा बाज़ार के .जरा सेहत का भी सोचो .ग्लाईकेमिक इंडेक्स की जानकारी सेहत का उम्र भर का बीमा है .

    भले आप जीवन शैली रोग मधुमेह बोले तो सेकेंडरी (एडल्ट आन सेट डायबीटीज ) के साथ जीवन यापन न कर रहें हों ,प्रीडायबेटिक आप हो न हों ये जानकारी आपके काम बहुत आयेगी .स्वास्थ्यकर थाली आप सजा सकतें हैं रोज़ मर्रा की ग्लाईकेमिक इंडेक्स की जानकारी की मार्फ़त .फिर देर कैसी ?और क्यों देर करनी है ?

    हारवर्ड स्कूल आफ पब्लिक हेल्थ के शोध कर्ताओं ने पता लगाया है ,लो ग्लाईकेमिक इंडेक्स खाद्य बहुल खुराक आपकी जीवन शैली रोगों यथा मधुमेह और हृदरोगों से हिफाज़त कर सकती है .बचाए रह सकती है आपको तमाम किस्म के जीवन शैली रोगों से जिनकी नींव गलत सलत खानपान से ही पड़ती है .

    जवाब देंहटाएं
  9. Nice.

    नख्ले जां को ख़ूं पिलाया उम्र भर
    शाख़े हस्ती आज भी जाने क्यूं ज़र्द है

    हिंदी ब्लॉगिंग की मुख्यधारा को संवारने के लिए अच्छे सुझाव.
    शुक्रिया।

    जवाब देंहटाएं
  10. ...भई इस बार का फार्मूला आपको कैसे पता चला....चलिए अगले साल के लिए नए लोगों को सहूलियत होगी :)

    जवाब देंहटाएं
  11. हा हा, मजा आ गया। अगली बार यही करेंगे।

    जवाब देंहटाएं
  12. बहुत खूब !
    कुछ घर पए बैठे लोगों
    का भी ध्यान करो
    उनको भी कुछ भेज दिया
    जाये ऎसा प्लान करो !

    जवाब देंहटाएं
  13. तब तो तैयारी अभी से करनी पड़ेगी..

    जवाब देंहटाएं
  14. मैं तो नहीं गया पर आपने सब नजारा दिखा दिया जय हो.......

    जवाब देंहटाएं
  15. वाह क्या बात है.
    पर, इसके लिए बाहर कहीं जाने की भी कौनो जरूरत है क्या? घर पर ही कर लिया जाए...

    सदैव की तरह मारक कार्टून. :)

    जवाब देंहटाएं
  16. एक वर्ष के क्रमांतर कार्यक्रम करवाए ।
    एक पदक द्वि पद चौपा एक सज्जन समाए ।।

    जवाब देंहटाएं
  17. हा हा हा ! आयोजन भी घर पर ही कर लिया जाए . :)

    जवाब देंहटाएं
  18. यह देख कर ब्लॉगजगत में आइडियाज़ की बाढ़-सी आने लगी है. देखते हैं कौन-कौन डूबता है :))

    जवाब देंहटाएं

LinkWithin

Blog Widget by LinkWithin