गुरुवार, 9 मई 2013

कार्टून :- गुप्तदान को कमाई जताने वाली जमात


14 टिप्‍पणियां:

  1. जबरदस्त और एकदम सही वक्त पर...

    जवाब देंहटाएं
  2. बहुत ही सुन्‍दर

    हिन्‍दी तकनीकी क्षेत्र कुछ नया और रोचक पढने और जानने की इच्‍छा है तो इसे एक बार अवश्‍य देखें,
    लेख पसंद आने पर टिप्‍प्‍णी द्वारा अपनी बहुमूल्‍य राय से अवगत करायें, अनुसरण कर सहयोग भी प्रदान करें
    MY BIG GUIDE

    जवाब देंहटाएं
  3. गुप्तदान इहलोक और परलोक दोनो सुधार देता है.:)

    रामराम.

    जवाब देंहटाएं
  4. ब्लॉग बुलेटिन की ५०० वीं पोस्ट ब्लॉग बुलेटिन की ५०० वीं पोस्ट पर नंगे पाँव मे आपकी पोस्ट को भी शामिल किया गया है ... सादर आभार !

    जवाब देंहटाएं
  5. आपके कार्टून को देखते और आनद लेते अरसा बिट गया मैंने सदा कांग्रेस विरोधी ही पाया ऐसा क्यों? क्या दूसरी पार्टी के लोग भगवन के बन्दे हैं या आप कुंठा ग्रस्त होकर कार्टून बनाते हैं विचार करिए यह आपकी रचना धर्मिता को प्रभावित करता हैं और आपके लिए घातक संकेत भी है पूर्व में भी आपको एक बार पूछा गया था

    जवाब देंहटाएं
    उत्तर
    1. कार्टूनिस्ट का काम सत्ता को जगाए रखना होता है न कि पार्टी लाइनों पर कार्टून बनाने का, इस दृष्टिकोण से देखेंगे तो बेहतर आनंद ले पाएंगे :-)

      हटाएं

LinkWithin

Blog Widget by LinkWithin